भरष्टाचार मुक्त शासन पिछले दो वर्ष में मोदी सरकार की सब से बड़ी उपलब्धि : मुख़्तार अब्बास नक़वी

0

भले ही केंद्र की नरेंद्र सरकार पर विपक्ष भरष्टाचार पर चुनाव में किये वादों को पूरा ना करने का आरोप लगाती रही हो, लेकिन केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा है कि मोदी सरकार को कांग्रेस से भ्रष्टाचार एवं घोटालों से भरपूर विरासत मिली और पिछले दो वर्षों में “भ्रष्टाचारमुक्त.विकासयुक्त” व्यवस्था देना केंद्र सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि रही।

PTI भाषा के अनुसार नकवी ने कहा कि पिछले दो वर्षो में केंद्र की मोदी सरकार के दौरान बिचौलियों-बेईमानों का बंटाधार और गरीबों-जरूरतमंदों का उद्धार हुआ है।

Also Read:  राहुल गांधी ने कहा-'सेल्फी की मशीन' बन चुके नरेंद्र मोदी हिन्दुस्तानियों में नफरत फैलाने में माहिर

नकवी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली राजग सरकार के दो वर्ष पूरे होने पर आयोजित विकास पर्व के दौरान कहा कि मोदी सरकार गांव, गरीब, किसान, कमजोर तबकों, दलितों, महिलाओं, युवाओं के आर्थिक सामाजिक, शैक्षिक सशक्तिरण के लिए पूरी ईमानदारी से काम कर रही है।

उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार मुक्त-विकास युक्त भारत का लक्ष्य मोदी सरकार ने उच्च पदों पर बैठे लोगों की पारदर्शिता और ईमानदारी के पैमाने से शुरू किया और आज दो वर्षो में केंद्र में उच्च पदों पर बैठे लोग ईमानदारी के साथ जन कल्याण का काम कर रहे हैं।

Also Read:  सोशल मीडिया: 'आमिर खान की पत्नी शायद अब भारत में पहले से कहीं ज्यादा सुरक्षित महसूस कर रही होंगी'

संसदीय कार्य राज्य मंत्री ने कहा कि मोदी सरकार के सुशासन.विकास.प्रगति आधारित राष्ट्रीय नीति के कारण भारत की विकास दर 2015-16 में बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में सर्वाधिक 7.6 फीसदी रही।

नकवी ने कहा कि मोदी सरकार के आर्थिक सुधारों का परिणाम है कि आज दुनिया भर के निवेशकों के लिए भारत सबसे पसंदीदा, सुरक्षित और आकर्षक निवेश स्थान बन गया है। 2015 में भारत ने 63 अरब डॉलर का प्रत्यक्ष विदेशी निवेश आकर्षित किया।

Also Read:  HRD के बाद अब कपड़ा मंत्रालय में भी स्मृति ईरानी की बढ़ी मुश्किलें

अल्पसंख्यक मामलों के राज्य मंत्री ने कहा, ‘‘पिछली कांग्रेस सरकार की भ्रष्टाचार-घोटालों से भरपूर विरासत मिलने के बावजूद ‘भ्रष्टाचारमुक्त-विकासयुक्त’ व्यवस्था देना मोदी सरकार की दो वर्षो की सबसे बड़ी उपलब्धि रही है। इस व्यवस्था से जहां एक तरफ बिचौलियों में बेचैनी और बेईमानों में बौखलाहट बढ़ी है, वहीं दूसरी तरफ जनधन के पाई-पाई का सदुपयोग गरीबों के कल्याण के लिए हो रहा है।’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here