बिहार हार पर भाजपा दिग्गजों ने मोदी, शाह पर उठाए सवाल

0

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के बुजुर्ग दिग्गजों ने बिहार विधानसभा चुनाव में पार्टी की हार के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अध्यक्ष अमित शाह पर सवाल उठाए हैं। लालकृष्ण आडवाणी सहित इन बुजुर्ग नेताओं ने हार की ‘मुकम्मल समीक्षा’ की मांग की है, लेकिन साथ ही कहा है कि यह समीक्षा वे लोग नहीं कर सकते जो इस हार के लिए जिम्मेदार हैं।

भाजपा के दिग्गजों लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, यशवंत सिन्हा और शांता कुमार ने मोदी के नेतृत्व को चुनौती देते हुए कहा है कि बिहार की हार ने यह दिखा दिया है कि पार्टी ने फरवरी में दिल्ली में आम आदमी पार्टी (आप) के हाथों मिली करारी हार से कोई सबक नहीं सीखा।

Also Read:  इजाजत नहीं मिलने के बाद भी सहारनपुर पहुंचे राहुल गांधी, भारी संख्या में पुलिसबल तैनात

पूर्व वित्तमंत्री यशवंत सिन्हा के हस्ताक्षर वाले इन नेताओं का साझा बयान एक बैठक के बाद जारी हुआ। बैठक में पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी भी शामिल हुए, जिन्होंने बिहार की हार के लिए सार्वजनिक रूप से मोदी, शाह और वित्तमंत्री अरुण जेटली को जिम्मेदार ठहराया है।

तल्खी से भरे बयान में कहा गया है, “बिहार के नतीजे बता रहे हैं कि दिल्ली की नाकामी से कुछ नहीं सीखा गया। यह कहना कि बिहार में हार के लिए सभी लोग जिम्मेदार हैं, किसी को भी जिम्मेदार नहीं ठहराए जाने को सुनिश्चित करना है।”

Also Read:  MCD चुनाव 2017: 272 सीटों पर मतदान जारी, दांव पर लगी AAP-BJP और कांग्रेस की साख

आडवाणी और अन्य वरिष्ठ नेताओं ने कहा कि बिहार के नतीजों की समीक्षा होनी चाहिए, लेकिन “यह समीक्षा किसी भी हालत में उन लोगों द्वारा नहीं की जानी चाहिए, जिन्होंने चुनाव प्रबंधन किया था और जो बिहार में प्रचार के लिए जिम्मेदार हैं।”

मोदी और उनके विश्वासपात्र अमित शाह पर सीधे हमला करते हुए बयान में कहा गया है, “हार के कारणों की पूरी तरह समीक्षा होनी चाहिए और यह भी देखा जाना चाहिए कि पार्टी कुछ लोगों के कहे अनुसार चलने पर मजबूर क्यों हुई है और यह कि कैसे उसका आम सहमति वाला चरित्र नष्ट कर दिया गया है।”

Also Read:  गुजरात विश्वविद्यालय ने पीएम नरेंद्र मोदी की शैक्षिक योग्यता पर आरटीआई अनुरोध को खारिज किया

साझा बयान में कहा गया है कि बिहार में पार्टी की हार की मुख्य वजह यह है कि “पार्टी किस हद तक शक्तिहीन हो गई है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here