बिहार चुनाव: नसीम जैदी ने कहा, मतदान केंद्रों पर केंद्रीय सुरक्षा बलों की होगी तैनाती

0

मुख्य निर्वाचन आयुक्त डॉ़. नसीम जैदी ने कहा है कि बिहार विधानसभा चुनाव में सभी केंद्रीय बलों की शत-प्रतिशत प्रतिनियुक्ति की जाएगी। सभी मतदान केंद्रों पर केंद्रीय सुरक्षा बलों की तैनाती की जाएगी। चुनाव आयोग शांतिपूर्ण और निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए पूरी तरह तैयार है।

पटना में दो दिनों तक राजनीतिक दलों और अधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि शांतिपूर्ण और भयमुक्त वातावरण में चुनाव हो इसके लिए आवश्यक सभी तैयारियां की जा रही हैं।

उन्होंने कहा कि जिलाधिकारियों और पुलिस अधीक्षकों को राज्य में निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान कराने के निर्देश दिए गए हैं। जैदी ने कहा, “मतदाताओं को धमकी मिली तो इसकी जिम्मेवारी संबंधित जिले के जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक होंगे।”

Also Read:  चुनाव आयोग ने लगाई बीजेपी के भड़काऊ पोस्टरों पर बैन

डॉ. जैदी ने कहा कि जाति आधारित भाषणों और वोट के साथ नोट मांगने की जांच कराई जाएगी। जातिवादी भाषणों को लेकर आदर्श आचार संहिता एवं अन्य कानूनों के तहत भी कार्रवाई की जाएगी। ऐसे मामलों को लेकर जांच रिपोर्ट तलब की जाएगी। राज्य के सभी अधिकारियों से आदर्श चुनाव आचार संहिता का पालन बिना भेदभाव के सुनिश्चित करवाने के भी निर्देश दिए गए हैं।

उन्होंने चुनाव की तैयारियों पर संतुष्टि जताते हुए कहा कि मतदान केंद्रों पर बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध रहे, इसकी भी आयोग द्वारा तैयारी की जा रही है। राज्य में चुनाव के दौरान धन का दुरुपयोग करने वालों पर खास नजर रखने का निर्देश भी दिया गया है।

Also Read:  केजरीवाल ने कहा, नजीब जंग का इस्तीफा मेरे लिए आश्चर्यजनक

डॉ़ जैदी ने कहा कि चुनाव की घोषणा के बाद अब तक नौ करोड़ रुपये से ज्यादा रकम जब्त की गई है। इतनी बड़ी रकम अब तक किसी चुनाव के दौरान जब्त नहीं की गई थी।

उन्होंने कहा कि संवेदनशील और अति संवेदनशील मतदान केंद्रों के अलावा 62 ऐसे विधानसभा क्षेत्रों को चिह्न्ति किया गया है, जहां मतदाताओं को धमकाया जा सकता है। इन स्थानों पर धमकी देने वाले असामाजिक तत्वों और जिन्हें धमकी दिया जा सकता है, उन्हें भी चिह्न्ति किया गया है।

Also Read:  बिहार चुनाव : लालू-नीतीश की ऐतिहासिक जीत, मोदी पर विपक्ष हमलावर

उल्लेखनीय है कि मुख्य निर्वाचन आयुक्त के नेतृत्व में आई चुनाव आयोग की टीम रविवार को राज्य के सभी प्रमुख राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों से मुलाकात की थी तथा अधिकारियों के साथ बैठक की थी। सोमवार को टीम राज्य के प्रथम, दूसरे और तीसरे चरण के मतदान वाले क्षेत्रों के जिलाधिकारियों, पुलिस अधीक्षकों सहित राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की और चुनाव की तैयारियों की समीक्षा की।

बिहार विधानसभा की 243 सीटों के लिए पांच चरणों में 12 अक्टूबर से पांच नवंबर के बीच मतदान होगा। सभी सीटों के लिए मतगणना दिवाली से ठीक तीन दिन पहले 8 नवंबर को होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here