बचपन में मैं भी खूब रामलीला देखा करता था: केजरीवाल

0

दिल्ली के जनपथ ग्राउण्ड पर नार्थइस्ट फेस्टिवल के शुभारम्भ एक ऐसा मौक़ा था जब अरविन्द केजरीवाल ने एक राजनेता की छवि से परे होकर लोगों से दिल की बात की ।

इस मौके पर केजरीवाल ने बातें करते हुए लोगों का दिल जीत लिया । उन्होंने कहा आप यहां मेरा भाषण सुनने नहीं आए बल्कि रामायण का सुनने आए है। “बचपन में मैं भी खूब रामलीला देखने जाया करता था। रामायण बुराई पर जीत का प्रतीक है, और आम आदमी पार्टी ने भी इसी तरह से इस देश में बुराई के उपर अच्छाई की जीत हासिल की है,” उन्होंने कहा। “अब हम सब लोगों को मिलकर दिल्ली को बदलना है।”

Also Read:  क्या पैसों की दौड़ में हमने इंसानियत खो दी है?- अरविन्द केजरीवाल

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि उन्हें उम्मीद है कि “हम देश भी बदलेगें। दिल्ली से प्रेरणा लेकर पूरा देश बदलेगा।”

कार्यक्रम में केजरीवाल के अलावा उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया व पर्यटन मंत्री कपिल मिश्रा भी मौजूद थे।

Also Read:  मेनका गांधी ने अरविंद केजरीवाल को क्यों लिखी चिट्ठी?

18 अक्टूबर तक चलने वाले इस कार्यक्रम में प्रवेश निशुल्क है। वीकेंड और फेस्टिव सीजन के चलते आप इस कार्यक्रम का भरपूर आनन्द ले सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here