पाकिस्तान के लिए जासूसी मामले में एक और गिरफ्तार

0

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए जासूसी करने के मामले में दिल्ली पुलिस ने एक और गिरफ्तारी की है, जिसके बाद इस मामले में गिरफ्तार आरोपियों की संख्या चार हो गई है।

संयुक्त पुलिस आयुक्त (अपराध शाखा) रवींद्र यादव ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी की पहचान जम्मू एवं कश्मीर निवासी सरकारी विद्यालय में कार्यरत एक शिक्षक सबर के रूप में हुई है। उसे शुक्रवार को राजौरी जिले से गिरफ्तार किया गया।

Also Read:  कन्हैया कुमार को जमानत: न्यायपालिका अब भी संभावना है।

इससे पहले दिल्ली पुलिस ने सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के हेड कांस्टेबल अब्दुल राशिद और पुस्तकालय सहायक 44 वर्षीय कैफतुल्ला खान उर्फ मास्टर राजा को भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा से संबंधित सूचना हासिल करने तथा उसे पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) के साथ साझा करने के लिए गिरफ्तार किया था।

राजौरी जिला निवासी खान पर धन के लालच में आईएसआई के लिए काम करने का आरोप है। उसे 26 नवंबर को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार किया गया था।

Also Read:  पाकिस्तान ने पहली बार किया पनडुब्बी से दागी जाने वाली क्रूज मिसाइल 'बाबर-3' का परीक्षण

दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा की एक टीम ने भारतीय सेना के सेवानिवृत्त हवलदार मुनव्वर अहमद मीर को जम्मू एवं कश्मीर के राजौरी जिले से गिरफ्तार किया। उस पर इस जासूसी प्रकरण में शामिल होने का आरोप है।

पुलिस के अनुसार, सबर ने मीर के साथ संपर्क साधने में खान की मदद की थी।

Also Read:  परमाणु हथियारों के पहले इस्तेमाल पर रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर का विवादित बयान

संयुक्त पुलिस आयुक्त यादव ने बताया, “मीर वर्ष 1995 में सेना से जुड़ा था। राष्ट्रीय रायफल्स बटालियन (जम्मू एवं कश्मीर लाइट इंफैंट्री) में सेवा देने के बाद 2011 में वह सेवानिवृत्त हुआ था।”

पुलिस ने कहा कि दोनों आरोपियों को आगे की पूछताछ के लिए दिल्ली ले जाया जाएगा। इसके लिए जम्मू एवं कश्मीर की संबद्ध अदालत से उसका ट्रांजिट रिमांड लिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here