चीन के कोयला खदान में आग लगने से 21 की मौत

0

चीन की एक सरकारी कोयला खदान में आग लगने के कारण शनिवार को 21 कर्मचारी मारे गए और एक अन्य व्यक्ति लापता हो गया।

यह दुर्घटना विश्व में कोयले के सबसे बड़े उत्पादक चीन में घटी सबसे घातक दुर्घटनाओं में से एक है।

जिस समय आग लगी, उस समय खदान में कुल 38 खदानकर्मी काम कर रहे थे. आग लगने के बाद इनमें से 16 लोग किसी तरह बच निकलने में कामयाब रहे।

Also Read:  साल 2015 में भारत और चीन में 16 लाख लोगों की जान प्रदूषण की वजह से गई

समाचार एजेंसी शिन्हुआ की खबर के अनुसार, बचावकर्मियों को 21 कर्मचारियों के शव मिले हैं और हीलॉन्गजियांग प्रांत की कोयला खदान में शुक्रवार देर शाम आग लगने के बाद से लापता एक अन्य व्यक्ति की तलाश कर रहे हैं।

Also Read:  वीडियोः ये BHU’s के छात्र ABVP की हिंसक छवि से दूर जाना चाहते है

आग जिक्शी शहर की जिस कोयला खदान में लगी उसका संचालन सरकारी हीलॉन्गजियांग लॉन्गमे माइनिंग होल्डिंग ग्रुप करता है। सरकार ने कहा कि आग काबू में है और इसके बाद किसी दुर्घटना की जानकारी नहीं है।

इस साल अप्रैल के बाद से यह अब तक की सबसे घातक खदान दुर्घटना है। अप्रैल में शांक्सी प्रांत के उत्तरी में स्थित दातोंग शहर की कोयला खदान में पानी का रिसाव हो जाने पर 21 लोग मारे गए थे। अगस्त में चीन की कोयला खदानों में हुई दो अलग-अलग दुर्घटनाओं में 10 लोग मारे गए थे। अक्टूबर में शानदोंग प्रांत में एक व्यक्ति मारा गया था।

Also Read:  उत्तर प्रदेश: दुर्गा मूर्ति विसर्जन के दौरान साम्प्रदायिक तनाव, भाजपा समर्थकों ने दिया धरना, 17 गिरफ्तार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here