जन्म दिन मुबारक गुलज़ार साहब!

0

गुलज़ार आज के सबसे ज्यादा पंसद किए जाने वाले शायर, गीतकार, और लेखक है। युवा पीढ़ी ने जिस ख्याल को अपना ख्याल बना लिया है, वो गुलज़ार के शब्दों से होकर आता है।

उनके लेखन की सादगी और सहजता बेहद आसानी से लोगों की ज़बान पर चढ़ जाती है। गुलज़ार के लेखन और फिल्मों में सवेंदनाएं साफ़ साफ़ प्रकट होती हैं ।

Also Read:  Actors should respect audience, says Shah Rukh Khan

कठिन से कठिन बात को आम लोेगों की बोलचाल में गीत और कहानी बनाकर पेश करने की शैली की वजह से गुलज़ार ओरों से अलग हो जाते है और उनका यहीं निरालापन  उन्हें ना सिर्फ युवाओं का चहेता बनाता है बल्कि हर खास-ओ-आम की पहली पसन्द बना देता है।

Also Read:  Amid row over Karan Johar Film, producers to meet Rajnath Singh

गुलज़ार अब फिल्में नहीं बना रहे सिर्फ फिल्मों के लिए गीत लिख रहे है जबकि साहित्य में उनका लेखन बराबर चल रहा है। उनके द्वारा निर्देशित हुतूतू अभी तक की उनकी आखिरी फिल्म है जबकि उनकी बेटी मेघना गुलज़ार की फिल्म तलवार आने वाली है।

Also Read:  First Day First Show of Prem Ratan Dhan Payo, what twitter users are saying

मशहूर शायर गुलज़ार का आज जन्मदिन है.

जन्म दिन मुबारक हो गुलज़ार साहब!

https://www.youtube.com/watch?v=wN3KTvQvYBU

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here