जन्म दिन मुबारक गुलज़ार साहब!

0

गुलज़ार आज के सबसे ज्यादा पंसद किए जाने वाले शायर, गीतकार, और लेखक है। युवा पीढ़ी ने जिस ख्याल को अपना ख्याल बना लिया है, वो गुलज़ार के शब्दों से होकर आता है।

उनके लेखन की सादगी और सहजता बेहद आसानी से लोगों की ज़बान पर चढ़ जाती है। गुलज़ार के लेखन और फिल्मों में सवेंदनाएं साफ़ साफ़ प्रकट होती हैं ।

Also Read:  Karan Johar, Saif, Varun Dhawan mock Kangana Ranaut, say 'Nepotism Rocks'

कठिन से कठिन बात को आम लोेगों की बोलचाल में गीत और कहानी बनाकर पेश करने की शैली की वजह से गुलज़ार ओरों से अलग हो जाते है और उनका यहीं निरालापन  उन्हें ना सिर्फ युवाओं का चहेता बनाता है बल्कि हर खास-ओ-आम की पहली पसन्द बना देता है।

Also Read:  Tamil film 'Visaranai' India's official entry to Oscars 2017

गुलज़ार अब फिल्में नहीं बना रहे सिर्फ फिल्मों के लिए गीत लिख रहे है जबकि साहित्य में उनका लेखन बराबर चल रहा है। उनके द्वारा निर्देशित हुतूतू अभी तक की उनकी आखिरी फिल्म है जबकि उनकी बेटी मेघना गुलज़ार की फिल्म तलवार आने वाली है।

Also Read:  "'Indu Sarkar' will hurt sentiments of Congressmen; this is what PM wants"

मशहूर शायर गुलज़ार का आज जन्मदिन है.

जन्म दिन मुबारक हो गुलज़ार साहब!

https://www.youtube.com/watch?v=wN3KTvQvYBU

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here