दिल्ली महिला आयोग ने दिल्ली सरकार के लेबर कमिश्नर को लिखा पत्र, पूछे कई सवाल

0

दिल्ली महिला आयोग ने प्लेसमेंट एजेंसियों के रेग्यूलेशन के लिए दिल्ली सरकार के लेबर कमिश्नर को पत्र लिखा है। पत्र में लेबर कमिश्नर से कई सवाल पूछे गए हैं जैसे कि अभी तक कितनी प्राइवेट प्लेसमेंट एजेंसियों का रजिस्ट्रेशन हुआ है, कितनी प्लेसमेंट एजेंसियों को लाइसेंस मिला है, इन सभी की जानकारी लेबर डिपार्टमेंट की वेबसाइट पर डाली गई है या नहीं और कितनी प्लेसमेंट एजेंसियों पर पेनल्टी लगाई गई है।

Also Read:  आत्महत्या से पहले Whatsapp पर लिखा, "मुझे ऐसी दुनिया में नही रहना जहाँ इंसान से ज्यादा पैसो की कीमत है"

दिल्ली महिला आयोग ने कुछ दिन पहले जीबी रोड में नारी निकेतन का दौरा किया था जिसके बाद ह्यूमन  ट्रैफिकिंग में प्लेसमेंट एजेंसिस की भी भागीदारी सामने आई है।

mahila

15 सितंबर को दिल्ली के रघुवीर नगर में दिल्ली महिला आयोग व एनजीओ द्वारा प्लेसमेंट एजेंसी से बच्चो को बचाया गया था।

Also Read:  सर्वोच्च न्यायालय ने दिल्ली में व्यावसायिक वाहनों पर ग्रीन टैक्स बढ़ाया

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालिवाल ने बताया कि दिल्ली सरकार के प्राइवेट प्लेसमेंट एजेंसी आर्डर 2014 के तहत लेबर मिनिस्ट्री और दिल्ली महिला आयोग को प्लेसमेंट एजेंसियों की मानिटरिंग करने का पूरा अधिकार है।

mahila 2

दिल्ली महिला आयोग ने लेबर मिनिस्टर गोपाल राय को पत्र लिखकर उनसे मिलने का समय मांगा है, ताकि प्राइवेट प्लेसमेंट एजेंसियों के रेग्यूलेशन पर मिलकर काम किया जा सके। इससे पहले प्लेसमेंट एजेंसियों को लेकर महिला आयोग में किसी भी तरीके का कोई भी काम नहीं किया गया था।

Also Read:  संजय दत्त के साथ काम क्यों नहीं करना चाहते नाना पाटेकर,

अब दिल्ली महिला आयोग द्वारा इस मिशन मोड के तहत इन प्लेसमेंट एजेंसियों की निगरानी की जाएगी और यदि किसी प्राइवेट प्लेसमेंट एजेंसी ने सैलरी नहीं दी है तो उसको भी महिला आयोग रिकवर कराएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here