ट्राई का ऐलान कॉल ड्रॉप होने पर देना होगा जुर्माना

0

कॉल ड्रॉप की समस्या को लेकर भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने खराब सेवा के लिए कंपनियों पर लगाया जाने वाले जुर्माने को दोगुना कर दिया।

भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने अपने वेबसाइट पर नए नियम जारी किए हैं, जिसमें कहा गया है कि कंपनियों पर किसी भी एक तिमाही में मानक का पहली बार अनुपालन नहीं करने पर एक लाख रुपये जुर्माना लगाया जाएगा, जिसके लिए पहले 50 हजार रुपये जुर्माना था।

Also Read:  यूपी में अकेले चुनाव लड़ेगी बीएसपी: मायावती

कंपनियों की सेवा को करीब 15 मानकों पर परखा जाता है, जो तकनीकी और ग्राहक सेवा दो प्रमुख श्रेणियों में बंटे होते हैं।

कॉल ड्रॉप का मामला तकनीकी श्रेणी में आता है।

Also Read:  WPI inflation slows to 3.57% as vegetable prices soften

ट्राई ने कहा कि एक ही मानक पर लगातार दो या अधिक तिमाही खरा नहीं उतरने पर जुर्माना राशि डेढ़ लाख रुपये हो जाएगी और उसके बाद हर तिमाही जुर्माना राशि दो लाख रुपये तक ली जा सकती है।

Also Read:  आज किंगफिशर एयरलाइंस की दो संपत्तियों की नीलामी

ट्राई ने यह भी कहा है कि कंपनी यदि दो डिफॉल्टिंग तिमाहियों के बीच एक तिमाही मानक पर खरा उतर जाती है, तो जुर्माना राशि फिर से एक लाख रुपये हो जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here