लाइव शो में दुनिया ने देखा शाजिया इल्मी का अहंकारी व्यवहार और पूर्वाग्रह से ग्रस्त मानसिकता को

0

विधानसभा में ईवीएम में गड़बड़ी को लेकर दिखाए गए डेमो के बाद देश की राजनीति गरमा गई है। इसके बाद सभी टीवी चैनलों ने ईवीएम के मुददे पर बहस का आयोजन करना शुरू कर दिया। ईवीएम का मुद्दा कल की सबसे बड़ी खबर बन गया। ईटीवी उर्दू ने अपने प्राइम टाइम शो ‘बिग बुलेटिन’ में इसी मुद्दे पर चर्चा करने के लिए कांग्रेस, आप और बीजेपी के प्रवक्ताओं को बुलाया था।

शजिया इल्मी

‘जनता का रिपोर्टर’ के प्रधान संपादक रिफत जावेद बतौर पत्रकार इस शो में हिस्सा ले रहे थे। ईटीवी के समीर अब्बास कार्यक्रम को होस्ट कर रहे थे। बीजेपी प्रवक्ता के तौर पर शाजिया इल्मी अपनी बात रख रही थी। चूंकि शो में अपनी बात रखने के लिए अन्य वक्ता भी ईवीएम के अच्छे-बुरे पक्ष पर बोल रहे थे लेकिन शाजिया इल्मी किसी की बात को सुनने के लिए तैयार नहीं दिख रही थी। उन्होंने इस डिबेट में दर्शाया कि जो वो चाहती है केवल वो ही बोला जाएं अन्य मुद्दे पर बात न हो।वह लगातार उग्र होती चली गई। न्यूज रूम में तानाशाही दिखाते हुए सिर्फ अपने मनचाहे मुद्दे पर बात करने के लिए शाजिया दवाब बनाने लगी। जिस समय रिफत जावेद एंकर समीर अब्बास के सवाल का जवाब दे रहे थे तो शाजिया ने बीच में उन्हें रोकते हुए कहा ये तो आम आदमी पार्टी के दूसरे प्रवक्ता है, रिफत जावेद उस समय एंकर के सवाल का जवाब दे ही रहे थे लेकिन शाजिया ने बीच में ही बिना सोचे समझे एक पत्रकार पर आरोप मढ़ दिया और अपनी पूर्वाग्रह से ग्रस्त मानसिकता का परिचय सबके सामने दिया।

पूरी खबर पढ़ने के लिए व वीडियो देखने के लिए अगले पेज पर जाएं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here