सेना की साहसिक कार्रवाई का जिस तरह से सस्ती लोकप्रियता के लिये इस्तेमाल हो रहा है वो अचंभित करने वाला है

0

देश इतना बदल जायेगा ऐसी उम्मीद ना थी।

वाट्स्एप, फेसबुक, ट्विटर, न्यूज चैनलों से होते हुये सर्जिकल स्ट्राइक फ्लेक्स बैनरो तक पहुंच चुका है। उत्तर प्रदेश के किसी शहर मे लगे इस बैनर में सर्जिकल स्ट्राइक के लिये सरकार को बधाई दी गई है साथ ही साथ “हम तुम्हे मारेंगे और जरूर मारेंगे” का स्लोगन भी लिखा हुआ है।

फ्लेक्स लगाने वाला क्या साबित करना चाहता है ये तो नही। पता पर इतना जरूर है कि इस फ्लेक्स के जरिये सरकार को सर्जिकल स्ट्राइक का श्रेय देने और सस्ती लोकप्रियता हासिल करने का एक घटिया किस्म का प्रयास किया गया है। सेना के किसी गुप्त मिशन का इस तरह से प्रचार और प्रसार शायद ही इसके पहले दुनियाँ के किसी देश ने किया हो।
goa-panaji

सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक किया देश का सीना गर्व से फूल गया। भारतीय सेना की इस कदम ने पूरे देश को गौरवान्वित होने का मौका दिया, देर से ही सही हमने पाकिस्तान को सर्जिकल स्ट्राइक के जरिये जोरदार तमाचा मारा था जिसकी आवाज पूरी दुनियाँ ने सुनी, मगर सेना की इस साहसिक कार्रवाई का जिस तरह से सस्ती लोकप्रियता के लिये इस्तेमाल हो रहा है वो अचंभित करने वाला है।

प्रचार और प्रसार की भूक अपने चरम पर है, ट्विटर ट्रेंड से लेकर अखबार बैनर और फ्लेक्स, प्रचार और प्रसार का इतना ज्यादा इससे पहले मैने कभी नही देखा कल को यदि सेना के किसी गुप्त मिशन की अग्रिम शुभकामनाओं के विज्ञापन किसी अखबार मे दिखाई दे तो चौंकियेगा मत, क्योंकि बदलते हुए देश मे कब क्या हो जाये कोई बड़ी बात नही।

जय हिंद, जय भारत जय, भारतीय सेना।

LEAVE A REPLY